Header Ads

हाइटल हर्निया का बिना सर्जरी से इलाज


 आज हम आप को सिखाएंगे कि कैसे हम बिना ऑपरेशन व surgery हम हैटल हर्निआ को ठिक कर  सकते है क्योकि जो सर्जरी है उसके अपने साइड इफेक्ट्स है जो कि इसके इलाज का परमानेंट सोलूशिन नहीं है सर्जरी में जो हाइटल हर्निया जो निकला हुआ है उसे सी तो देते है पर कभी न कभी व्ही समस्या दुबारा भी आ जाती है यदि लाइफ स्टील को इम्प्रूव न किया जाये | तो अये हम सीखते है कैसे हम इसको ठीक कर सकते है | सबसे पहले हम यह जानेगे के हाइटल या हाइटस हर्निया है क्या 

 क्या  है हाइटल या हाइटस हर्निया 

मेरे अनुसार, परमात्मा जी ने आप को एक महान मौका दिया था इस दुनिया में स्वस्थ रहने का पर आप ने बहुत सारी स्वास्थ्य की गलतियाँ कर दी |  तथा उसकी वजह से यह समस्या हुई फिर आप ने  गलतियों को दोहराया व सुधार बिलकुल नहीं लेकर आये | हमने अपने भोजन नली में वह भोजन भेजा जो खाना नहीं चाहिए | या ऐसा गन्दा लाइफ स्टाइल बनाया के इस भोजन की नली व जठर में तेजाब बनना शुरू हो जाता है | आप तो जानते ही हो हमारे फेफड़ों के निचे डीएफ़राम होता है उसके बिच में एक रिंग होता है उसे हम हाइटल रिंग कहते है जब पेट में बहुत तेजाब बनता है तो वह बार बार ऊपर आता है व् वह जठर व भोजन नली के बिच के वाल्व को खराब कर देता है | यह ख़राब होते ही तेजाब बार बार बनना शुरू हो जाता है व यह जठर या जिसे हम स्टोमक पाउच कहते है खिसक कर डीएफ़राम के ऊपर आ जाता है व हाइटल रिंग को चौड़ा कर देता है तो इसी को हाइटल हर्निया या हाइटस हर्निया कहा जाता है | 

सिम्पटम्स 

१. आप को बहुत ज्यादा तेजाब बनना शुरू हो जायेगा 

२. कुछ खाया पिया हजम नहीं होगा 

३. इनडाइजेशन  होगा 

४. खून की कमी हो जाएगी 

५. हर्टबर्न होगा 

६. छाती में जलन होगी 

हम अपनी लाइफ स्टाइल की गलतियों का सुधार करके इसका इलाज कर सकते है | 

इस लिए मैंने इसका सफलता का नियम ही बना दिया है 

सफलता = मोके की शक्ति सुधार 

यदि आप को सिर्फ दो ही मोके मिले व मेरे सात सुधारों को अपनाएंगे तो आप के सफलता की सम्भावना  128 गुना बढ़ जाएगी 

आओ अब इस हर्निया के इलाज के प्रोसेस को सीखते है 

 १. दवाईयां खाना बंद करे 

अंग्रेजी दवाईयां जो तेजाब ख़तम करने के लिए दी जाती है वो बहुत गरम होती है व कुछ समय के बाद यही मेडिसिन असर करना बंद कर देती है व यह आप के हाइटल रिंग का का ब्रेकेज बड़ा बना देती है क्योकि जठर की सोज कम होने की बजाए इस से बढ़ जाती है 

२. ब्रह्मचर्य की दवाई को इस्तमाल करे 

महान आयुर्वेद आचार्य धन्वंतरि जी ने भी यही कहा था। वे महर्षि भी थे जिन्होंने अच्छे चरित्र निर्माण की शिक्षा दी।

 जानें उन्होंने क्या कहा

मृत्युव्याधिजरानाशी पीयूष परमषधम

ब्रह्मचर्य महदर्तन सत्यमय वदाम्यहम

अर्थात सभी रोगों, वृद्धावस्था और मृत्यु को नष्ट करने के लिए केवल ब्रह्मचर्य ही महान औषधि है। मैं सच बोल रहा हूँ। यदि आप शांति, सौंदर्य, स्मृति, ज्ञान, स्वास्थ्य और अच्छे बच्चे चाहते हैं, तो आपको ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए।

आओ हम इसको समझते है के कैसे हम ब्रह्मचर्य को फॉलो कर सकते है ब्रह्मचर्य का मतलब होता कि हम  जो भी फ़ूड खाते है उसका पहले रस बनता है फिर खून बनता है , फिर मास , फिर मेध , फिर  हडी , फिर मज्जा व लास्ट में पुरषों में वीर्य व एस्ट्रियों में रज बनता है इसे ही वाइटल एनर्जी के नाम से जाना जाता है यही शक्ति आप की इस बीमारी को बिलकुल ठीक कर देगी 

मैं एक उदाहरण से आप को समझाने की कोशिश करता हु मैं इस समय कार्य कर रहा हु व मेरे कमरे की लाइट व पंखां चल रहा है यदि मैं कहीं चला जाऊ तो मुझे अपना पंखां व लाइट बंद करनी चाहिए नहीं तो यही बिजली ऊर्जा की बर्बादी होगी व मेरी पहुंच से भी ज्यादा मुझे बिजली का बिल देना पड़ेगा | व उस बिल को देने के लिए मुझे अपनी मेहनत दुगनी करनी होगी | व मेरी वित्तीय आजादी का सपना अधूरा रह जायेगा | 

ऐसे ही यदि आप को यह समस्या है वा आठ मैथुनों में अपनी वाइटल एनर्जी का नाश कर रहे हो तो  आप की यह समस्या ठीक नहीं होगी 

आप को तो सिर्फ अपनी इस शक्ति को एकठा करना है व ॐ की तरफ ध्यान लगा के इस समस्या को ठीक करना है | 

यदि कोई शादीशुदा है तो सिर्फ बच्चे पैदा करने के लिए इस शक्ति का उपयोग किया जा सकता है वार्ना ब्रह्मचर्य इस इस शक्ति की रक्षा करनी  से व इसका बीमारी ठीक करने के लिए इस्तमाल करे बहुत सारे मोटिवेशनल गलत प्रचार कर रहे है जो कि आप की बीमारी को ठीक करने में रुकावट दे सकते है इसलिए हमारे प्राचीन ऋषियों का कहना माने न के इनका | क्योकि इस शक्ति के दुरूपयोग से हमारी १० इन्द्रियां कमजोर हो जाती है व वह खून नहीं बनती व उससे ७ धातु भी नहीं बनती व जिसके कारण आप की बीमारी छेती ठीक नहीं होती 

3. ३. गर्म मर्च , गरम मसाला , रिफाइंड आयल व बहार का पैकेट बंद सामान खाना बंद करे

यह सभी तेजाब बनती है व आप की बीमारी को बढ़ाती है इस लिए इन्हे भूल कर भी न खाये 

४. हर रोज कुल भोजन का ६० % फल खाये 



मौसम के बहुत सरे फल है उन्हें खाये जैसे 

आम , अनार , अब्रुद , नाशपाती  व बाबुकोषा , खोपा गड़ी | इन को खाने से आप की बीमारी छेती ठीक हो जाएगी 

५. सुबह छेती जागे व रात को छेती सो जाये 

ऐसा करने से आप की बॉडी को फुल रेस्ट मिलेगा | कहते है रेस्ट इस बेस्ट मेडिसिन | सेल्फ हीलिंग की प्रोसेस तेज होगी व नई सेल्स बनेगे व आप का यह हर्निया ठीक हो जायेगा बिना ऑपरेशन | पर आप को रात को देर तक कार्य करने की आदत है जिस से समस्य को ठीक करने के लिए नेचर को आप समय ही नहीं देते व सुबह जल्दी न उठ कर पेट को साफ नहीं होने देते | 

६. व्ययाम व हर रोज पैदल चले 

यह भोजन पचने में सहयता देगा व तेजाब नहीं बनने देगा | आप को बीएस सिर्फ हर रोज पैदल २० किलोमीटर चलना ही  है | १ घंटा एक्सरसाइज भी करनी है फिर देखों आप में कितनी ताजगी आ जाती है | व आप की यह बीमारी छो मन्त्र हो जाती है |  

मेरे से प्रेरणा ले 

आज मैं १५ मिनट्स रनिंग किया 

१००+ राम मूर्ति दंड लगाई 

इसके इलावा कुछ वेट लिफ्टिंग भी की 

७. हर रोज स्ट्रेस को ख़तम करने के लिए मैडिटेशन करे 

मदिताशन करने से स्ट्रेस ख़तम होता है जिससे ब्रेन में नेगेटिव हार्मोन बनना ख़तम हो जाते है व आप की यह समस्या जल्दी ही ख़तम हो जाती है जहां नेगेटिव हर्मोन नहीं बनते व सिर्फ पॉजिटिव एक्शन को लेने के लिए पॉजिटिव हार्मोन  बनते है 


No comments

Powered by Blogger.