Header Ads

माँ का गीत

 


आज मैने माँ का गीत अपनी माता जी की ७वी पुण्यतिथि पर उनको शरधा सुमन के रूप में लिखा है | आओ माँ को याद कर के हर ख़ुशी को प्राप्त करे 



माँ है त्याग का नाम, माँ है बलिदान का नाम 

माँ है जीवन का नाम , माँ  भगवान का नाम 


तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | 

तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | | 


माँ है जीवन की आस , माँ है जीवन की साँस 

माँ है जीवन की उम्मीद , माँ है जीवन की आशा 

माँ है जीवन का आकाश , माँ है जीवन का प्रकाश 


तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | 

तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | | 


जिस ने हर चीज में माँ को पा लिया 

उसने हर चीज में ख़ुशी को पा लिया 

जिसने विषयों में फस कर माँ को भुला दिया 

उसने दुखों से अपने जीवन को बना दिया 


तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | 

तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | | 


माँ   के नाम से ही मन मुस्कुराता है 

माँ के नाम  ही दिल खिलखिलाता है 

माँ के नाम  ही आती है शक्ति 

माँ के नाम  ही मिल जाती है बल व् बुद्धि 


तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | 

तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | | 


माँ ही बोलना सिखाती है 

माँ ही चलना सिखाती है 

माँ ही गाना सिखाती है 

माँ ही ख़ुशी हो या गम हसना सिखाती है 


तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | 

तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | | 


माँ की ममता को पैसों से तोला जा नहीं सकता 

माँ के प्यार को  पैसों से ख़रीदा जा नहीं सकता 

माँ की क्षमता को आंका जा नहीं सकता 

माँ तो बच्चे के लिए मौत  खेल सकती है 

माँ अपनी जान देकर जीवन दे सकती है 


तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | 

तो बोलो तू ही सबकुछ है माँ , माँ तु ही सब कुछ है | | 


No comments

Powered by Blogger.